आयुष एडमिशन घोटाला मामले में यूपी एसटीएफ ने 12 लोगों को किया गिरफ्तार

41

उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने आयुष एडमिशन घोटाले मामले में 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। 7 नवंबर को उत्तर प्रदेश सरकार ने आयुष एडमिशन घोटाले की जांच सीबीआई को सौंपी थी।

इस मामले में एसटीएफ के एक अधिकारी ने एस.एन. सिंह ने दो अन्य अधिकारी उमाकांत यादव और भास्कर के साथ फर्म से जुड़े नौ अन्य लोगों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। उन्हें गुरुवार देर रात लखनऊ के हजरतगंज से गिरफ्तार किया गया और आपराधिक साजिश (धारा 120 बी), बेईमानी (420), धोखाधड़ी के उद्देश्य से जालसाजी (468), धोखाधड़ी या बेईमानी से किसी भी दस्तावेज को असली के रूप में इस्तेमाल करने (471) के आईपीसी तहत मामला दर्ज किया गया।

एसटीएफ ने कहा कि यह जांच के दौरान सामने आया कि सिंह ने दो अन्य अधिकारियों और आयोजन करने वाली निजी फर्म, सॉफ्ट सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के साथ मिलकर निदेशालय से प्राप्त आंकड़ों में हेराफेरी की, जिसके कारण अयोग्य उम्मीदवारों का एडमिशन हुआ।