Hanuman Jayanti 2023: जाने कब है हनुमान जयंती, मुहूर्त और पूजन विधि के बारे में….

69

प्रत्येक वर्ष चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि पर संकट मोचन हनुमान जी की जयंती मनाई जाती है। मान्यता है कि इसी दिन श्री राम के भक्त हनुमान जी ने माता अंजनी और राजा केसरी के घर जन्म लिया था। वहीं, पुराणों के अनुसार भगवान हनुमानजी को शिव जी का रुद्रावतार माना जाता है। आइए जानते हैं साल 2023 में हनुमान जयंती कब मनाई जाएगी और क्या है इसका महत्व…..

हनुमान जयंती 2023 तिथि
मान्यता है कि हनुमान जी का जन्म चैत्र माह की पूर्णिमा तिथि पर चित्र नक्षत्र व मेष लग्न के योग में हुआ था। वर्ष 2023 में हनुमान जयंती 14 अप्रैल को मनाई जाएगी। हनुमान जी कि भक्ति से व्यक्ति के जीवन में आठ प्रकार की सिद्धियां और नौ प्रकार की निधियां प्राप्त हो जाती है। इस बार बजरंग बली की पूजा के लिए हनुमान जयंती के मौके पर अभिजित मुहूर्त है – दोपहर 12.02 बजे से 12.53 तक।

बजरंगबली की पूजा के महत्व

मान्यता है कि यदि संकट के समय हनुमान जी का सच्चे मन से सुमिरन किया जाए तो वे अपने भक्त की स्वंय रक्षा करते हैं उसे हर पीड़ा से बचाते हैं।
शनि देव की अशुभ प्रभाव से बचने के लिए हनुमान जी की उपासना करनी चाहिए, क्योंकि बजरंगबली के भक्त को शनि देव कभी परेशान नहीं करते।
हनुमान जयंती पर जो पीपल के पत्ते, बेसन के लड्‌डू, लाल रंग के पुष्प से इनकी पूजा करता है उसके जीवन में हनुमान जी खुशियां लाते हैं।
हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए भक्तों को हनुमान जयंती पर रामचरित मानस का पाठ करना चाहिए।